बुधवार, 4 मई 2011

खुद पर भरोसा ....

रोने का दिल करे तो रोवो
जिस तरह खुलकर हँसते हो न
उसी तरह खुलकर रोवो
हाँ साथ ही अपने आंसू पोछना भी सीखो
क्योंकि आंसू पोछने कोई नहीं आता
पर जब खुद पर भरोसा करने लगोगे
तो ईश्वर उन आंसुओं को मोती बना देगा
अपनी हथेली में भरकर ....!!

- रश्मि प्रभा

16 टिप्‍पणियां:

  1. आत्मविश्वास ही अमूल्य मोती है।

    ____________________________________

    सुज्ञ: जीवन का लक्ष्य

    ____________________________________

    उत्तर देंहटाएं
  2. जो समझ गया खुद के
    आंसुओ का स्वाद
    वो जीत गया ये जहान
    हँसी में नहीं ...
    आंसुओ में छिपी है
    खुद की कामयाबी ....((अंजु.....अनु..))

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही बात है दीदी, दुःख को मन से निकाल देना ही अच्छा है वरना वो नफरत का रूप ले लेता है और ज्यादा नुकसान करता है ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह ...आंसुओं को पोंछने की कला हो तो आंसू भी मोती बन जाते हैं ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. क्या अजीब शर्त लगायी है दीदी आपने
    "जिस तरह खुल कर हँसते हो "
    कितने लोग मिलेंगे आपको खुल कर हंसने वाले..
    आपको पता है... साफ साफ आपको पता है कि खुलकर वही रो सकता है जो खुल कर हंस लेता हो ..
    ये आंसुओं के मोती बनने का राज है दी मूलमंत्र !!

    उत्तर देंहटाएं
  6. खुद पर और उस ईश्वर पर विश्वास ही आंसुओं को मोती बना देता है ...बिलकुल सच !

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (5-5-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  8. गहन ...बहुत सुंदर विचार ...
    आभार -इसे बाटने के लिए ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. क्योंकि आंसू पोछने कोई नहीं आता
    पर जब खुद पर भरोसा करने लगोगे
    तो ईश्वर उन आंसुओं को मोती बना देगा
    अपनी हथेली में भरकर ....!!
    ..बिलकुल सच ...

    उत्तर देंहटाएं
  10. bikharate bavon ko sanjone ka prayas achha hai,

    हाँ साथ ही अपने आंसू पोछना भी सीखो
    क्योंकि आंसू पोछने कोई नहीं आता
    bahut khb ,sunder srijan.abhar

    उत्तर देंहटाएं
  11. thank you so much for such great thoughts... ll apply it for sure...

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...