शनिवार, 17 दिसंबर 2011

सब ज्ञानी होते हैं ...!!!

होनी जब तक दूसरे के घर तांडव करती है , तब तक सब ज्ञानी होते हैं 
जैसे ही बिजली अपने घर की जाती है सारी बुद्धि भी गुल्ल हो जाती है...!!!
 
- रश्मि प्रभा 

5 टिप्‍पणियां:

  1. ज्ञान के पाखण्ड का पर्दाफाश!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. सच जब अपने पर गुजरती है तब सही आंकलन हो पाता है..

    बहुत बढ़िया

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही है जब तक खुद पर नहीं बीतती दुःख का पता सही मायने में नहीं लगता...

    उत्तर देंहटाएं
  4. hehe true..
    till the time its on others, we all act damn smart :P

    reality unleashes when it comes to us.
    very deep n thoughtful !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहूत सही बात कही है अपने
    मराठी में एक कहावत है
    " ज्याचा जळत .त्यालाच कळत "..

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...