शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2012

चिंतन ...

शब्द हमारी असलियत हैं ... 
असलियत यदि खो जाए  तो शब्द खुद ब खुद खोटे हो जाते हैं 

- रश्मि प्रभा 

3 टिप्‍पणियां:

  1. वाकई बिलकुल सच कहा आपने ! जिनमें सत्य ना हो, ईमानदारी ना हो, असलियत ना हो वे शब्द निरर्थक ही हैं !

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...