सोमवार, 22 अक्तूबर 2012

चिंतन ...

अच्छी बातों का प्रभाव अच्छा ही पड़े - यह ज़रूरी नहीं . 
अपने नज़रिए से लोग अच्छाई को आडम्बर भी कहते हैं !!!

- रश्मि प्रभा 

3 टिप्‍पणियां:

  1. एकदम सच्ची बात...
    गलत नजरिये वाले लोग अच्छाई को
    भी आडंबर ही कहते है...

    उत्तर देंहटाएं
  2. लोग अपनी सोच के अनुसार ही सोचते हैं !
    जाकी रही भावना जैसी !

    उत्तर देंहटाएं
  3. ham buri baat kahen... par mere najar me achchhi ho jayegi... najar najar ka fer hai di:)

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...