शनिवार, 3 सितंबर 2011

उचित विकास ...

जिस तरह फूल पौधों के उचित विकास के लिए
समय समय पर काट छांट ज़रूरी है....
ठीक उसी तरह बच्चों को उचित बात सिखाने के लिए ...
समय समय पर डांट ज़रूरी है......!!!!

- रश्मि प्रभा

8 टिप्‍पणियां:

  1. बिलकुल सही कहा आपने पर आजकल बच्चों को डांटना एक अध्यापक के लिए तो बड़ी मुश्किल खड़ी कर देता है हालाँकि कुछ अध्यापक भी सीमाओं का उल्लंघन कर जाते हैं बस माँ बाप ही ध्यान दे तो सही दिशा मिल सकती है

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...