गुरुवार, 22 सितंबर 2011

प्रशंसा ...

प्रशंसा तो सभी चाहते हैं
करने से प्रायः कतराते हैं ...!!!
- रश्मि प्रभा

4 टिप्‍पणियां:

  1. और दूसरों की प्रशंसा से जलते हैं :):)

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक दम सही बात है दोनों ही, "प्रशंसा तो सभी चाहते हैं, मगर करने से प्राय:कतराते है और दूसरों की प्रशंसा से जलते है" :)

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...