सोमवार, 7 मार्च 2011

सूरज ....

सूरज तो सबके हिस्से आता है
कोई पा लेता है , कोई सोकर गँवा देता है ।

- रश्मि प्रभा

7 टिप्‍पणियां:

  1. जो सोवत है सो खोवत है
    जो जागत है सो पावत है !

    उत्तर देंहटाएं
  2. सही बात .... कुछ लोग चाँद के दीदार की बात करते हैं ...और नाकामयाबी को रोते हैं

    उत्तर देंहटाएं
  3. ब्‍लागजगत पर आपका स्‍वागत है ।

    संस्‍कृत की सेवा में हमारा साथ देने के लिये आप सादर आमंत्रित हैं,
    संस्‍कृतजगत् पर आकर हमारा मार्गदर्शन करें व अपने
    सुझाव दें, और अगर हमारा प्रयास पसंद आये तो संस्‍कृत के
    प्रसार में अपना योगदान दें ।

    यदि आप संस्‍कृत में लिख सकते हैं तो आपको इस ब्‍लाग पर लेखन के लिये आमन्त्रित किया जा रहा है ।

    हमें ईमेल से संपर्क करें pandey.aaanand@gmail.com पर अपना नाम व पूरा परिचय)

    धन्‍यवाद

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...