शनिवार, 26 नवंबर 2011

हम कहाँ जा रहे हैं !

समूह कहाँ जा रहा है 
इससे पहले यह जानना ज़रूरी है 
कि हम कहाँ जा रहे हैं !
 
- रश्मि प्रभा

3 टिप्‍पणियां:

  1. आपने बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न पर विचार प्रकट किये हैं.
    यह बहुत बड़ी समस्या है लोग बिना सोचे समझे
    समूह या भीड़ की तरफ चले जाते हैं ,
    कई बार दौड़ तक लगाते हैं
    केवल समूह का अनुसरण करना ठीक नहीं होता,
    मेरा मानना है स्वयं को उस पर मनन चिंतन करना चाहिए ,
    अच्छी तरह सोच विचार के पश्चात ही समूह के साथ जाना चाहिए.
    अधिकतर समूह के निर्णय बहुत कुछ उसके नेतृत्व पर निर्भर भी करते हैं
    भेड़ चाल इसी को कहते हैं.मैंने कई बार लोगों को बाद में पछताते देखा है

    उत्तर देंहटाएं
  2. This is a really neatly written article. I will make sure to bookmark it and return to read more of your helpful information. Thank you for the post. I’ll certainly comeback.

    From everything is canvas

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...