रविवार, 1 जून 2014

चिंतन ...

किसी की प्रगति यदि हज़म हो जाए
फिर कॉम्पिटिशन ही नहीं रह जाए ।

- रश्मि प्रभा 

3 टिप्‍पणियां:

  1. हाँ सो तो है ... तो क्यूँ ना इसे बेहतर करने की प्रेरणा बना लिया जाये

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...