बुधवार, 25 जुलाई 2012

  • कोई शुरूआत जब गलती से हो तो समझाने से बेहतर है
      आप सामनेवाले की बात सुनें
      उसके क्रोध को भी स्‍वीकार करें - तब अनचाहा नहीं होता 

        - रश्मि प्रभा

3 टिप्‍पणियां:

  1. सही बात!!
    क्रोध पर तत्काल प्रतिक्रिया करने से पूर्व उसे समझने का प्रयास किया जाय तो समस्या ही नहीं होती।

    उत्तर देंहटाएं
  2. इतना आत्मसंयम करना भी दुरूह हो जाता है ... पर बात पते की है ॥

    उत्तर देंहटाएं

यह प्रेरक विचार आपके प्रोत्‍साहन से एक नये विचार को जन्‍म देगा ..
आपके आगमन का आभार ...सदा द्वारा ...